भारत में मोदी के मेक इन इंडिया,के नाम पर घंटा और डमरू ही बना है क्या? #golden yaday

श्री गुरु ग्लोबल न्यूज:-ब्रिटेन की कोर्ट में,, एक्स्ट्रा जनिका,, जिस फार्मूले पर भारत में कोविशील्ड बना था,, इस कंपनी ने ब्रिटेन के कोर्ट में अपने में हलक्नामें में,,,, सफाई दिया है,, एक्सट्रेजनिका के फार्मूले में,, कई बीमारियां की संभावना है,, हार्ट अटैक एवं खून के थकके जमना,,, एवं, मस्तिष्क ,ब्रेन स्ट्रोक भी हो सकती है,,। भारत का ऐसा कोई भी परिवार नहीं होगा जो कोरोना महामारी नहीं झेला होगा,,, प्रधानमंत्री,, मोदी,, 2021 के,, बंगाल चुनाव में कोरोना वैक्सीन के नाम पर वोट मांग रहे थे,, सर्टिफिकेट में अपना फोटो लगा रहे थे जो अचानक अब फोटो हटा दिए हैं यह सबसे बड़ा सवाल उठता है,, लाखों परिवारों को भारत के लोगों को लग चुका है तब ऐसे समय में सरकार पीछे हट रही है बल्कि अपने आत्मनिर्भर भारत के वैक्सीन के ऊपर सीधा दावे के साथ खड़ा होना चाहिए,,। अखिलेश यादव की बातें सच साबित हुई,, उन्होंने वैक्सीन पर भरोसा नहीं किया और उन्होंने नहीं लगाया,, अखिलेश यादव बिल्कुल दूर दृष्टि जैसे भविष्य जानते हैं ऐसे प्रकार के देश में नेता साबित हुए,। उन पर उसे समय बीजेपी के कई लोगों ने ट्रोल किया और उनका देश विरोधी तक उसे समय कहा गया,, अब साबित हो गया की अखिलेश यादव की कितनी क्षमता है,,। उसे समय का कहा हुआ वीडियो आज ट्विटर( x) वायरल हो रहा है,, वैक्सीन बनाने वाली कंपनी ने भारतीय जनता पार्टी को करोड़ों का चंदा दिया है,, मतलब भारत के लोगों के साथ वैक्सीन के नाम पर कमाई भी किया गया और सरकार से पैसा भी मिला फिर उसको पार्टी को चंदा भी दिया,,गया,, अब सवाल उठता है जब का वैक्सीन, सवाल उठ रहा है,, ऐसे में भारत सरकार अपने जवाब देही से भाग रही,है,,, खैर तो आचार संहिता लगने के बाद केवल कोई भी प्रधानमंत्री कोड आफ कंडक्ट लगने के बाद,, भारत के जो प्रधानमंत्री होते हैं या सरकार और मंत्री होते हैं केवल औपचारिकताएं होती है,, भारत के प्रधानमंत्री केवल कार्यवाहक प्रधानमंत्री,हैं,, जो देश में 10 साल सरकार चलाएं आज जनता जो वैक्सीन लगाए हैं उनका भरोसा दिलाने का भी समय है,, और उन पर वैक्सीन के बारे में किसी भी प्रकार का कोई भी बीजेपी का नेता जवाब देने से बच रहा है,, अब सवाल उठता है बड़े-बड़े डॉक्टर, ऐसे फार्मूला को भारत के लोगों को क्यों लगाया गया, और भारत में हार्ट अटैक के कई मामले सामने आ चुके हैं,, कई बड़े-बड़े सेलिब्रिटी जिम में जिम करते-करते हार्ट अटैक आ गया किसी को खेलते खेलते,, अचानक हार्ट अटैक की कई मामले बढ़ गए हैं देश,,में,,। वैक्सीन के लिए कई प्रकार का नियम बनाया गया था वैक्सीन नहीं लगने पर एयरपोर्ट एवं ट्रेन रेलवे कई सरकारी कामों पर एंट्री नहीं दिया जाता था यानी भारत के लोगों को साथ वैक्सीन लगवाया गया,, और कोरोना के नाम पर कई प्रकार के कमाई किया गया,,, और कोरोना के नाम पर जो फंड पीएम केयर फंड बनाया गया उसे पर भी सवाल उठता है उसको भी आरटीए के दायरे से बाहर रखा गया कितना पैसा जमा हुआ और कितना खर्चा हुआ कि इसमें खर्च हुआ या आज तक सवाल को घेरे में है,। इस पर गहन जांच होनी चाहिए जो भी दोषी है उन पर कार्रवाई होना चाहिए आखिर ऐसे वैक्सीन को परमिशन किसने दिया,? अब वैक्सीन लगने के बाद उपाय क्या है।

guruglobal

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *