लोकसभा परिणाम के बाद जिधर रहेगा दम उधर ही चले जाएंगे हम!

राजनीति विशेषज्ञ गोल्डन यादव:-उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बहन मायावती एवं बहुजन समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के जन्मदिन आने वाला है उस पर विशेष,,, पॉलिटिकल रिपोर्ट,,,, श्री गुरु ग्लोबल न्यूज के फीचर इमेंज़ जो दिखाई दे रहा है यह उसे समय की तस्वीर है जब अटल बिहारी वाजपेई प्रधानमंत्री थे नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे जब बहुजन समाज पार्टी के मान्यवर काशीराम की विरासत को संभाल रही बहन मायावती नरेंद्र मोदी का प्रचार करने के लिए गए थे उस समय कांग्रेस मजबूत थी देश में,, बहन मायावती जो शेड्यूल कास्ट वोट है,, उसके पक्ष में अधिक था अब धीरे-धीरे वह वोट बीजेपी की ओर फॉरवर्ड हो गया है,,, एक समय आदिवासी और शेड्यूल कास्ट वोट कांग्रेस के परफेक्ट वोट माना जाता था वह अब बीजेपी की ओर भी चला गया है,, उसके पीछे कई कारण है उनके जो नेता होते हैं,, अप्रत्यक्ष रूप से राष्ट्रीय पार्टी का समकक्ष खड़ा हो जाना या फिर उसके हिसाब से पॉलिसी बनाना और काम करना जो शेड्यूल कास्ट और आदिवासी वोट होते हैं सीधे उन्हीं की तरफ ही फॉरवर्ड हो जाते हैं,, 2022 के उत्तर प्रदेश चुनाव में,, समाजवादी पार्टी कुछ ही अंतर से चुनाव हारी,, अगर कहे तो कांग्रेस वहां उत्तर प्रदेश 2022 का चुनाव नहीं लड़ती जहां उनका398 सीटों पर जमानत जप्त हुआ है,,, बहुजन समाजवादी पार्टी समाजवादी पार्टी का वोट काटने हिसाब से कैंडिडेट बदली,, समाजवादी पार्टी का वोट परसेंट बढ़ गया लेकिन चुनाव में सफलता नहीं मिला और बहुजन समाज पार्टी का जो वोट परसेंट होता था वह घट गया,, यानी वोट परसेंट को देखें तो बहुजन समाज पार्टी अब राजनीति से समाप्त होने वाली पार्टी है उनका जो वोट बैंक शेड्यूल कास्ट वोट बैंक है वह अब बीजेपी की ओर ही पूरी तरह का सब फॉरवर्ड हो गया है,,, यानी जाति और धर्म की राजनीति करने वाले,, यानी राजनीति में कैरियर ज्यादा दिन का नहीं होता है,,, लेकिन राजनीति में अपर कास्ट का जो वोटर है वह केवल बीजेपी का परफेक्ट वोटर है चाहे अपर कास्ट कोई भी पार्टी में रहेगा वह अपर कास्ट जो होते हैं अधिकतर वोट बीजेपी को ही करेंगे,, और यही सच्चाई है और सभी पार्टी को पता है,, 2024 में देश में आम चुनाव है,, कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के साथ लोकसभा चुनाव में गठबंधन की बात कह रही है पर समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने कहा है 2019 में उनके साथ गठबंधन हुआ था चुनाव होने के बाद चुनाव सीटें जीतने के बाद उसकी गारंटी कौन लेगा कि वह गठबंधन में रहेगी या गठबंधन तोड़ देगी,,,।

इंडिया का गठबंधन में कांग्रेस पार्टी बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन करना चाहती है लेकिन अखिलेश यादव ने सवाल उठाया है बहुजन समाजवादी पार्टी का गारंटी कौन लेगा? चुनाव परिणाम के बाद किस तरफ जाएगी,,, इसका पहले से ही परिणाम सबको मालूम है चाहे बहुजन समाज पार्टी हो चाहे उड़ीसा की, नवीन पटनायक चाहे आंध्र की जगन मोहन रेड्डी या चंद्रबाबू नायडू, दिल्ली में सरकार होती है उसी की तरफ रुख करेंगें।।,

कांग्रेस पार्टी ने देश के साथ बहुत अन्याय किया है, इसलिए कांग्रेस को भारत में न्याय यात्रा निकालना पड़ रहा है,,, ना कांग्रेस पार्टी के पास कोई दूर दृष्टि नहीं थी,,,,, अंग्रेजों से देश आजाद हुआ लेकिन कांग्रेस पार्टी 55 वर्ष शासन करने के बाद आज भी सामंतवादियों के गुलाम है,,, कांग्रेस पार्टी सामंतवादियों के चंगुल से बाहर नहीं हुई है,, 2024 का परिणाम जो भी हो, देश की जनता को तय करना है लेकिन एक बात पहले सही तय हो चुका है जिसकी भी सरकार बनेगी मिली जुली सरकार ही बनेगी।, संविधान और कानून दिल्ली और स्टेट में सरकार रहने के बाद भी कांग्रेस पार्टी सिस्टम को सुधार नहीं कर पाई, इसका मुख्य दोषी कांग्रेस पार्टी ही है,,।

guruglobal

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Have Missed!

0 Minutes
गरियाबंद छत्तीसगढ़ ज़िला गरियाबंद ब्रेकिंग-न्यूज राजनीति लोकसभा चुनाव शिक्षा
महिलाओं के सम्मान में, महासमुंद लोकसभा से डॉक्टर श्वेता शर्मा मैदान में।
0 Minutes
राजनीति लोकसभा चुनाव शिक्षा
कांग्रेस ने अंग्रेजों से आजादी दिलाया लेकिन अंग्रेजी कानून देश को अभी भी गुलाम रखी है।, लेकिन भाजपा ने भी कुछ नहीं किया ।
0 Minutes
ब्रेकिंग-न्यूज राजनीति लोकसभा चुनाव विधानसभा चुनाव शिक्षा
लोकतंत्र एवं जनाधार का हत्या पहले कांग्रेस कर चुकी है ,आज बीजेपी कर रही है इसमें कौन सी बड़ी बात है!
0 Minutes
International ब्रेकिंग-न्यूज राजनीति लोकसभा चुनाव शिक्षा
आचार संहिता लगते ही, पॉलिटिकल पार्टियों को छोड़ो सीबीआई ED भी इंडिया गठबंधन की ओर आ जाएगी!